Batuk Bhairav Yantra – 3 Inches
DESCRIPTION

This Yantra deeply etched in brass plate with antique finish is dedicated to Batuk Bhairav. He is one of the forms of Bhairav Nath, Who is an incarnation of Lord Shiva.

Benefits:
  • Protects from hidden enemies and malefic energies
  • Brings good fortune and fulfils desires
  • Removes all obstacles from life

बटुक भैरव मूल मंत्र

विशेष रूप से बच्चों के लिए सुरक्षित और स्वस्थ जीवन के लिए बटुक भैरव मूल मंत्र का पाठ किया जाता है। बच्चे के मन, आत्मा और शरीर पर लाभकारी प्रभाव डालने के लिए इस मंत्र का जाप किया जाता है। बुरी नजर के दुष्प्राभावों के बारे में हम सब जानते हैं। जिस व्यक्ति पर बुरी नजर पड़ती है, उसे इसका आभास नहीं होता है। लेकिन इसके परिणाम से वह खुद को बचा नहीं पाता। इससे उसके स्वास्थ्य को, उसकी संपत्ति को, उसकी सफलता को नुकसान पहुंच सकता है। इसके साथ ही उस व्यक्ति विशेष को, जिसे नजर लगी है, कई अन्य नुकसान भी हो सकते हैं। सबसे भयानक है, छिपी हुई बुरी नजर। कई संस्कृतियों का मानना ​​​​है कि जिसे बुरी नजर लगती है, उसे कई प्रकार की आपदा का सामना करना पड़ता है या कई तरह के संकट उसके जीवन में बने रहते हैं। आमतौर पर माना जाता है कि पवित्रता के कारण नवजात शिशु और छोटे बच्चे बुरी नजर की चपेट में आसानी से आ जाते हैं। कुछ लोगों का मानना है कि किसी बच्चे के निरंतर तारीफ करने से उसे बुरी नजर लग सकती है।

यह भी माना जाता है कि बुरी नजर किसी व्यक्ति की शांति को भंग कर सकती है, नुकसान या पीड़ा दे सकती है। यह भी मान्यता है कि चूंकि शिशु कमजोर होते हैं, इसिलए वे बुरी नजर के प्रति अधिक संवेदनशील होते हैं। यह मंत्र उन बच्चों के लिए विशेष रूप से अच्छा है, जो शारीरिक रूप से कमजोर होते हैं और आसानी से बीमार पड़ सकते हैं। ऐसे परिवारों में बटुक मूल मंत्र का जाप करना चाहिए जिनके बच्चे हैं या जो बच्चे की उम्मीद कर रहे हैं।

बटुक भैरव मूल मंत्र है:

ॐ ह्रीं बटुकाय आपदुद्धारणाय कुरु कुरु बटुकाय ह्रीं ॐ स्वाहा ।

बटुक भैरव मूल मंत्र के जाप के लाभ

  • यदि आप इस मंत्र का जाप नियमित रूप से करते हैं, तो आप भविष्य में आने वाली समस्याओं से बचे रह सकते हैं।
  • भावनात्मक रूप से शांत होने पर पारिवारिक जीवन में कलह और कठिनाइयां दूर हो जाती हैं।
  • राज्य के अधिकारियों का पक्ष लेने और अदालती विवाद जीतने के लिए इस मूल मंत्र से बेहतर कोई मंत्र नहीं है।
  • इस मंत्र की मदद से जीवन संकट और संपत्ति संबंधित खतरों से बचा जा सकता है।
  • जब बटुक भैरव मूल मंत्र (Batuk Bhairav mool mantra) को समर्पण के साथ दोहराया जाता है, तो व्यक्ति के जीवन से सभी संकट, बाधाएं और दूसरों से मिली धमकियां खत्म जाती हैं।